मंगल पांडेय जयंती पर कविता | Mangal Pandey Poem in Hindi

Mangal Pandey History Hindi:- भारत देश जिस पर अंग्रेजों के जुल्म होते चले आ रहे थे जब ये देश आजाद नहीं हुआ करता था, मंगल पांडे एक भारतीय स्वतंत्रता सेनानी थे जिन्होंने पहली बार 1857 मैं ब्रिटिश शासकों के खिलाफ पहली स्वतंत्रता संग्राम में अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी। पांडे जी ब्रिटिश शासकों द्वारा चलाए गए ईस्ट इंडिया कंपनी के 34वी बंगाल इंफेन्ट्री नामक के सिपाही थे परंतु हमारे देश के नागरिक इनको आजादी की लड़ाई के नायक के रूप में सम्मान देते थे।



इंडिया कब आजाद हुआ तब मंगल पांडे जी के सम्मान में भारत सरकार ने इनके नाम पर सन 1984 में एक डाक टिकट के रूप में सम्मान दिया गया। मंगल पांडेय की जयंती 19 जुलाई को मनाई जाती है क्योंकि इनका का जन्म इसी दिन सन 1827 में भारत के उत्तर प्रदेश राज्य के बलिया जिले में स्तिथ नगवा नामक गाँव के एक ब्राम्हण जाति में हुआ था। इनके पिता जी का नाम दिवाकर पांडे था।

मंगल पांडेय पर कविता - Poem Mangal Pandey in Hindi


एक हुए महान स्वतंत्रता सेनानी, 
बंगाल इन्फैंट्री के सच्चे सिपाही। 
आजादी की लड़ाई के महानायक, 
स्वाधीनता संग्राम में लड़ी लड़ाई ।।

19 जुलाई को जन्मे बलिया में, 
ब्राह्मण था आपका परिवार । 
समय बीता तो मंगल पांडे जी, 
ईस्ट इंडिया कंपनी के बने करतार ।।

बढ़ रहे थे अंग्रेजों के अत्याचार, 
देश देख रहा था आजादी के सपने। 
करी बगावत खिलाफ अंग्रेजों के, 
महान सेनानी मंगल पांडे अपने।

गाय और सुअर की चर्बी का, 
किया था इस्तेमाल लगा इल्जाम। 
वर्दी रायफल ली जाए वापस, 
हुआ आदेश गलत था काम।।

वीरता से उनके डरते थे ब्रिटिश, 
कोर्ट मार्शल का आदेश किया। 
फिर भी खौफ था अंग्रेजों में, 
मंगल पांडे ने ऐसा काम किया।
- गीता देवी

मंगल पांडे जयंती पर कविता - Best Poem On Mangal Pandey Birthday


जब तक सूरज चांद रहेगा 
मंगल पांडेय जी आपका नाम रहेगा
आजादी की जंग के महायोगदान को
पूरा हिन्दुस्तान याद रखेगा 
विश्व पटल पर बलिया का गौरव

आपसे गौरवमान रहेगा
आपसे प्रेरणा लेकर भारत का 
हर नागरिक राष्ट्र हित पथ पर चलायमान रहेगा
विजन २०२० पूरा करने मे हर भारतीय का
सर्वश्रेष्ठ कर्मदान रहेगा
सबसे आगे होंगे हिन्दुस्तानी।

ये जज्बा विद्यमान रहेगा
हर भारतीय के अंदर मंगल होंगे
ये संकल्प पूज्यमान रहेग
नास्त्रेदमस की भविष्यवाणी पूरा करने को
सारा हिन्दुस्तान गतिमान रहेगा
८ अप्रैल को आपके सम्मान में
सारा हिन्दुस्तान रहेगा।

हर कलम आपके सम्मान मे लिखेगी
ये कलमवीर का फर्ज महान रहेगा
जब तक सूरज चांद रहेगा
मंगल पांडेय जी आपका नाम रहेगा

मंगल पांडेय पर काव्य - Mangal Pandey Petriotic Poetry In Hindi


गीता गौ गङ्गा की पावनता जिसे न तोड़ पाया है 
कोई सुना कि गाय की चर्बी को मुँह से लगाता है हर कोई
जिस माता के दूध पी के वो हुए एक सेनानी थे 
बलिया का खून खौला साथी भी हुए दीवाने थे।

गरज़ गई थी वो बंदूकें मेरठ की तब सड़को पे 
बिगुल बज गया यारों भारत के हर शहरों में
टूट गयीं था वो दीवारे गुलामी की तस्वीरों से ज़र्रा 
ज़र्रा गूंज गया था इंकलाब के उन नारों से

सुनवाई हुई थी अधूरी जज ने दोषी मान लिया 
आठ अप्रैल का दिन था फासी उनके नाम हुआ ।
इतिहास के हर पन्नो में वाणी ये गाई जाएगी 
राष्ट्रीयता के ख़ातिर ये कुर्बानी याद आएगी।

Mangal Pandey Deshbhakti Kavita In Hindi


देश की माटी देश की आन 
जिला बलिया देश की शान
बलिया के होते सपूत महान 
मंगल पांडे का नाम महान

चित्तू पांडेय 42 के शाहंशाह
चन्द्रशेखर बलिया की शान
नीरज शेखर सा नहीं इंसान
हजारी प्रसाद व अमरकांत

भागवत शरण, विवेकी राय 
और अकेला का जन्मस्थान
शेरे हिन्द मंगल पाण्डेय का 
जन्म हुआ आज ही के दिन

बैरकपुर में तोड़ दिया आपने 
फिरंगियों की आन बान शान
किया अपना प्राण न्यौछावर 
नहीं झुका बलियावी महान

बागी बलिया है शेरों की खान हैं 
यहां एक से एक वीर महान
यही तो है दरदर मुनि और
हमारे भृगु मुनि की पहचान

अन्याय सहन नहीं करते हम 
चाहे कितना भी हो नुकसान
हिन्द के शेर चन्द्रशेखर जी ने 
शान से बढ़ाया देश का मान

पहले भी बागी रहा है बलिया
आज भी वही बलियावी शान
जहां भी जाते हम बलिया से 
सर भले कटे सिर नहीं झुक

बलिया का पूरे विश्व में अपना 
लोहा मनवाने वाले शेरे हिन्द, 
वीर सपूत मंगल पांडे को शत् शत् नमन।

वीरों की धरती, जवानों का 
देश बागी जिला बलिया उत्तरप्रदेश
-राम बहादुर राय

अन्य कविता भी पढ़े

मंगल पांडे जी के ऊपर भारतीय सिनेमा ने कई सारे फिल्मों को बनाया अभी हाल ही में Mangal Pandey Raising Star नाम से एक मूवी को आमिर खान द्वारा बनाया जा रहा है जिसे भारतीय नागरिकों के सामने प्रस्तुत किया जाएगा जिसके फलस्वरूप हमारी देश के नागरिकों को उनकी वीरता और उनके जीवन के योगदान का महत्व हम सबको पता चलेगा उम्मीद करूंगा कि आपको यह आर्टिकल पसंद आया होगा इसलिए आपसे निवेदन करूंगा कि आप इस लेख को अपने मित्रों के साथ शेयर करें धन्यवाद.