विश्व जनसंख्या दिवस 2021 Poem | World Population Day Poems In Hindi

World Population Day Poem Theme:- पृथ्वी पर जीव है जीव जंतु अपनी जनसंख्या को बहुत ही तेजी के साथ बढ़ा रहे हैं जिसके कारण भविष्य में हमें कई गंभीर पर्यावरण आपदाओं का सामना करना पड़ सकता है जो हमारे मानव समाज के लिए विनाशकारी सकता है। हम सभी लोग जानते हैं कि पृथ्वी पर मनुष्य की जनसंख्या बहुत तेजी से बढ़ रही है जिसके कारण हमें भविष्य में कुदरती आपदाओं का सामना करना पड़ सकता है इसलिए जब 11 जुलाई सन 1987 में दुनिया की आबादी 5 अरब हो गई थी उस दिन विश्व जनसंख्या दिवस मनाने का विचार किया गया जिसका उपदेश जनसंख्या पर नियंत्रण करने पर जोर दिया गया।

11 July 2021 World Population Day Poem Hindi Poster Wallpaper Hd Image

World Population Day 2021 Poems in Hindi -विश्व जनसंख्या दिवस 2021 पर कवितायेँ

जीवन जीना दुर्लभ हुआ,
दुनिया हुई विवश।
एक कमाते 10 खाने वाले,
जनसंख्या अति घनत्व।
बढ़ती आबादी हर रोज,
घटती सुविधाएं सारी है।

लाचार हो गए नव युवा,
नौकरी की मारामारी है।
डिग्री लेकर फिरते सारे,
बेरोजगारी की कतार भारी है।
बिगड़ चुका है हर मसला,
हर तरफ भुखमरी, बीमारी है।

प्राकृतिक संसाधन बचे रहें,
यह सब की जिम्मेदारी है।
पेड़, पानी, खनिज, तेल आदि 
यह संसाधन के रूप हैं।

इनका ना दुरुपयोग करें,
इसी में समझदारी है।
जीवन नर्क बन जाएगा,
पेड़ लगाना आवश्यकता हमारी है।
घटते संसाधन बचा लीजिए,
यह जनहित में जारी है।
लेखक - सुमन सिंह


Prakriti Mata or Jansankhya Par Short Kavita


एक वृक्ष तुम भी लगाओ मानव, 
प्रकृति माँ स्वयं ही बोल रही है, 
मानव की अति जनसंख्या से, 
धरती माता डोल रही है,

इस जनसंख्या के भरण-पोषण को, 
वन-जंगल सब साफ हुए, 
संख्य प्रजाति को खा गया मानव, 
अक्षम्य मानव से पाप हुए,

असंख्य उद्योग दिनरात, 
जल-वायु को प्रदूषित करते है, 
आज भी विशेष कारण से, 
लोग दस-दस बच्चे उपजित करते है,

प्राणवायु उत्पन्न करने को, 
परंपरागत वृक्षो का रोपण करो, 
वनस्पति व जंतुओं में संतुलन हेतु, 
ना प्रकृति का असीमित दोहन करो,

अन्यथा तो बहुत पछताओगे, 
असमय मौत से मारे जाओगे, 
प्रकृति माँ यदि रुष्ट हो गयी 'धीर', 
त्राहि-माम् त्राहि-माम् चिल्लाओगे।


अन्य कविता भी पढ़े

■ गर्भवती महिलाओं पर कविता

■ डेल्टा प्लस कोरिना पर कविता 

■ प्रकृति और पर्यावरण पर कविता

"11 जुलाई 2021 को विश्व जनसंख्या दिवस मनाया जाएगा" इस दिन आप भी अपने परिवार के साथ मिलकर विचार करें कि हम अपनी जनसंख्या को किस प्रकार से नियंत्रण कर सकती हैं क्योंकि भविष्य में हमें कई पर्यावरण आपदाओं का सामना कर पड़ सकता है अगर हम इसी तरीके से अपने जनसंख्या को बढ़ाते रहेंगे और आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इस आर्टिकल को अपने मित्रों के साथ जरूर शेयर करें और अपना ध्यान रखें धन्यवाद।