हनुमान जयंती पर कविता | Poem on Hanuman Jayanti in Hindi

भारत में अनेक त्यौहार मनाए जाते हैं जिसमें एक हनुमान जयंती भी एक हिन्दू त्योहार है जो भारत के अलावा नेपाल में मनाया जाता है ये त्यौहार भगवान हनुमान के जन्म अवसर पर मनाया जाता है। भगवान हनुमान सबसे सम्मानित हिंदू भगवान है जिनके मंदिर आमतौर पर राष्ट्र के हर छोटी-बड़ी जहां पर पाए जाते हैं मान जयंती एक जश्न का अवसर है जब सभी हिंदू लोग भगवान हनुमान के जन्म जश्न मनाते हैं।

हनुमानजी जयंती पर हिंदी कविता Hanuman Jayanti Poems Shayri Quotes in Hindi Hd Images


भगवान हनुमान अपने कौशल और बुद्धि के लिए जाने जाते हैं। उन्होंने अकेले ही पूरे लंका को जला दिया और यहां तक कि महान शक्तिशाली रावण भी उन्हें नहीं रोक पाया वह शक्तिशाली होने के साथ ही शांत और सौम्य भी है। हिंदू धार्मिक ग्रंथों और हनुमान चालीसा में या विशेष रूप से उल्लेख किया गया है कि हनुमान अपने पूजा और शौर्य साहस और जीवन शक्ति प्रदान करते हैं ।

हनुमान जयंती जी पर कविताये | Poem on Hanuman Jayanti in Hindi


हर जाती को चाहता है 
हर छाती मे धडकता है
किसानों  का अभिमान है
वो शेर हनुमान है!! 

तलवार की धार है.
बरसता अगार है. 
आसमान मे निशान है. 
वो शेर हनुमान है!!

जिसने आके किया पाप है. 
उसको दी वही मात है. 
इसके पास हर कमान है. 
वो शेर हनुमान है!!

 जो जन बेगुनाह है.
उनकी यह पनाह है. 
सत्य का श्रीमान है. 
वो शेर हनुमान है!!

मैदानएजंग का शुर है.
 वीरो का वीर है. 
उसकी शक्ती तूफान है.
 वो शेर हनुमान है!! 

समुद्र का भूचाल है. 
जवानों  का नाज है.
धरती कि शान है. 
वो शेर हनुमान है!! 

निष्ठावान् विधायक है.
हर शख्स का रखवाला है.
 मारवाड  का ताज है.
 वो शेर हनुमान है!! 

विरोधियो को फाडा है. 
दलगतो को तोडा है.
बडा जिदादिल इँसान है. 
वो शेर हनुमान है!!

बिजली सा चमका है. 
बादल सा गरजा है. 
चट्टानोँ सा बलवान है. 
वो शेर हनुमान है!! 

आज सुनाई हुँकार है. 
तुम्हेँ खुली ललकार है. 
जिसे किसानों का मान है. 
वो शेर हनुमान है!!

साथ जनता की रवानी है,
यही विजय की कहानी है. 
फिर आयेगा हमे विश्वास है. 
वो शेर हनुमान है!! 

उंचा ये पहाड है,
शेर कि दहाड है.
 'तेजाभक्त' गाये गुणगान है,
वो शेर हनुमान है!!
वो शेर हनुमान है!!
वो शेर हनुमान है!!
वो शेर हनुमान है!!
- बलवीर घिंटाला तेजाभक्त 

बजरंगबली पर हिंदी कविता | Best Short Hanuman Ji Poems Shayari


जिनको श्रीराम का वरदान है. 
गटा धारी जिनकी शान है 
बजरंगी जिनकी पहचान है, 
संकट मोचन वो हनुमान है।
जय बजरंगबली

राम दूत कहलाते लक्ष्मण जी के प्राण बचाते, 
सीता माता की करते सेवा, 
ऐसे है हमारे हनुमंत देवा ||

दुश्मनो को मार गिराया, 
राम चंद्र जी को मार्ग दिखाया, 
दीन दुखीयों की करते दूर पीडा, 
ऐसे है हमारे हनुमंत देवा |

हनुमान जयंती आध्यात्मिक रूप से भगवान हनुमान से जुड़ने और उनके गुणों को याद करने का एक अवसर है। अपार ताकत होने के बावजूद वह एक नदी की तरह शांत है। उन्हें अपने कौशल पर कभी कोई गर्व नहीं रहा और इसका उपयोग वह केवल दूसरों के हित के लिए करते हैं यह त्यौहार हमें स्वयं को भगवान हनुमान के रूप में आध्यात्मिक और मानसिक रूप से विकसित होना सिखाता है। या हमें भगवान हनुमान पर पूरा भरोसा बनाए रखते हुए कठिन परिस्थितियों में धर्म और शांत चित्त रहना सिखाता है और इससे बाहर निकलने की योजना बनाना भी सिखाता है।